12vi ke baad kya kare । करियर कैसे बनाये 2021 पूर्ण जानकारी

नमस्कार पाठकों,

12वी ke baad kya kare?” यह एक ऐसा महत्वपूर्ण सवाल है जो हर उस छात्र के मन में आता है जिसने या तो 12वीं कर ली होती है या फिर वह करने वाला होता है। यह एक वाजिब सवाल इसलिए भी है क्योंकि इस सवाल का जवाब हमारे पाठ्यक्रम पर नहीं होता है।

यह हमारी एक कमी है जिससे हमें सुधारना चाहिए। लेकिन आज के लेख में हम आपको बताएंगे कि वे कौन-कौन से career ऑप्शन हो सकते हैं जिनका आप 12वीं के बाद चयन सकते हैं।

आज के लेख में हम आपको बताएंगे कि 12वीं के बाद में कौन-कौन से Career क्षेत्र है जहां पर आप अपने पढ़ाई या ट्रेनिंग को शुरू करके अपना career बना सकते हैं। हम आशा करते हैं कि इस लेख में आपको “12वीं के बाद क्या करें?” इस महत्वपूर्ण सवाल का जवाब जरूर मिलेगा।

तो चलिए शुरू करते हैं-

12वीं के बाद क्या करें

12वीं के बाद क्या करें

मित्रों 12वीं के बाद आपके पास में करने के लिए बहुत कुछ होता है। लेकिन सब कुछ इस बात पर निर्भर करता है कि आप क्या करना चाहते हैं। आज के इस लेख में हम आपको वह सारे संभावित विकल्प बताएंगे जिनमें से आप अपने मनपसंद का विद्या क्षेत्र चुनकर के अपनी पढ़ाई को या फिर अपनी ट्रेनिंग को आगे कर सकते हैं और अपना career बना सकते हैं।

मित्रों 12वीं के बाद मुख्य रूप से आपके पास में चार संभावनाएं होती हैं-

1.   आर्ट्स

2.   कॉमर्स

3.   साइंस

4.   ITI

आर्ट्स के छात्रों के लिए पाठ्यक्रम (अंडर ग्रेजुएट)

मित्रों यदि आप 11वीं में आर्ट्स का सब्जेक्ट चुन कर के अपनी 12वीं पूरी करते हैं तो इसके बाद में आपको बहुत सारे करीर क्षेत्र मिलते हैं जिनमें आप अपना career बना सकते हैं।

जैसे कि-

  • BBS – जिसका मतलब होता है बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन। जिसमें आपको यह पढ़ाया जाता है कि यदि आप किसी बिजनेस को शुरू करते हैं तो कौन-कौन सी समस्याएं हैं जिनका आपको सामना करना पड़ता है और उनका कैसे समाधान किया जाता है।
  • BMS – यानी कि बैचलर ऑफ मैनेजमेंट साइंस। इसमें आपको मैनेजमेंट संबंधित सारी शिक्षा प्रदान की जाती है और अंत में आपको ट्रेनिंग भी करवाई जाती है।
  • BFA – जिसका मतलब होता है बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स।
  • BEM – अर्थात बैचलर ऑफ इवेंट मैनेजमेंट। इसमें आपको इवेंट मैनेजमेंट से संबंधित सारी शिक्षा प्रदान की जाती है और अंत में ट्रेनिंग होती है वर्तमान समय में भारत प्रगतिशील से प्रगतिवान बनने जा रहा है और यहाँ रहने वाले लोगों की आमदनी भी बढ़ेगी और लोग इवेंट मैनेजमेंट की तरफ अपना रुख जरूर करेंगे।
  • BA + LLB अर्थात वकालत।
  • BJMC – बैचलर ऑफ जर्नलिज्म एंड मैस कम्युनिकेशन। जिसे करके आप जर्नलिस्ट सकते हैं या जर्नलिज्म के क्षेत्र में अपना career बना सकते हैं।
  • BFD – बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग। जिसमें आप फैशन डिजाइनिंग सीख सकते हैं और जैसा कि हम जानते हैं कि भविष्य में फैशन डिजाइनिंग का स्कोप बहुत ज्यादा है।
  • BSW – अर्थात बैचलर ऑफ सोशल वर्क। यदि आपको किसी भी प्रकार से सोशल वर्क में थोड़ा सा भी इंटरेस्ट है तो आप यह career क्षेत्र अपने लिए चुन सकते हैं।
  • BBS – बैचलर आफ बिजनेस स्टडीज।
  • BTTM – अर्थात बैचलर ऑफ ट्रैवल एंड टूरिज्म मैनेजमेंट।
  • एवियशन कोर्स।
  • BSC इंटीरियर डिजाइन जिसमें आपको इंटीरियर डिजाइनिंग के बारे में पूरी जानकारी दी जाती है और आपको पूरी शिक्षा प्रदान करी जाती है।
  • BD – बैचलर ऑफ डिजाइन।
  • BPA – बैचलर ऑफ परफॉर्मिंग आर्ट्स।
  • यदि आप चाहे तो इतिहास में भी बैचलर ऑफ आर्ट्स कर सकते है।
  • इन सब के द्वारा आप आर्ट्स के क्षेत्र में अपना भविष्य बना सकते है।

12वीं के बाद साइंस (अंडर ग्रेजुएट)

12वीं के बाद यदि आप साइंस चुनते हैं तो इसमें आपके पास में बहुत ही ज्यादा कैरियर क्षेत्र वैकल्पिक होते हैं।

जैसे कि

  • BE/B।Tech – जिसका मतलब होता है बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी जिसके अंतर्गत आपको टेक्नोलॉजी से संबंधित सारी मूलभूत शिक्षा प्रदान करी जाती है।
  • B।Arch – बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर भी कर सकते हैं।
  • इसके आलावा आप सूचना प्रौद्योगिकी अतः इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी में BSE कर सकते हैं।
  • नर्सिंग में BSEकर सकते हैं।
  • आप चाहे तो B।Pharma भी कर सकते हैं अतः बैचलर ऑफ फार्मेसी जिसमें आपको फार्मेसी से संबंधित सारी जानकारी, सारी शिक्षा प्रदान की जाती है।
  • इसके आलावा बीएससी इंटीरियर डिजाइनकर सकते हैं।
  • BDS अर्थात बेचलर ऑफ़ डेंटल सर्जरी कर सकते हैं।
  • यदि आप चाहें तो एनिमेशन ग्राफिक और मल्टीमीडिया से संबंधित कई कोर्स कर सकते हैं।
  • आप चाहे तो BSE न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स मैं भी अपना career बना सकते हैं।
  • इसके आलावा भी आप चाहे तो BPT – बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी में भी अपना कैरियर खोज सकते हैं।
  • BSE अप्लाइड जियोलॉजी में कर सकते हैं।
  • यदि आपको गणित से प्रेम है तो गणित में BSE कर सकते हैं।
  • यदि आपको रसायन शास्त्र से प्रेम है तो आप रसायन शास्त्र में BSE कर सकते हैं।
  • आपको किसी भी प्रकार से भौतिकी में रुचि है तो आप भौतिकी विज्ञान में विज्ञान में BSE कर सकते हैं।

यदि आप बीटेक करते हैं और इंजीनियरिंग को अपना कैरियर चुनना चाहते हैं तो इंजीनियरिंग में भी बहुत सारे पाठ्यक्रम के विकल्प आपको मिल जाएंगे।

जैसे कि

·    एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग

·    सिविल इंजीनियरिंग

·    ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग

·    कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग

·    बायोटेक्नोलॉजी इंजीनियरिंग

·    इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग

·    इलेक्ट्रॉनिक्स कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग

·    ऑटोमेशन एंड रोबोटिक्स

·    पैट्रोलियम इंजीनियरिंग

·    इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियरिंग

·    केमिकल इंजीनियरिंग

·    परिवहन इंजीनियरिंग

·    रोबोटिक्स इंजीनियरिंग

·    टैक्सटाइल इंजीनियरिंग

यदि आप चाहें तो इनमें से किसी को B।Tech के साथ में कर सकते हैं।

12वीं कॉमर्स

इसके बाद यदि आप अपना career वाणिज्य के क्षेत्र में चुनना चाहते हैं तो आप वाणिज्य के क्षेत्र में भी अपना career बना सकते हैं। वाणिज्य के क्षेत्र में आपको विकल्प थोडे कम मिल सकते हैं। लेकिन वाणिज्य के क्षेत्र में भी अच्छे विकल्प आपको मिलेंगे।

जैसे कि-

·    बीकॉम – बैचलर ऑफ कॉमर्स,

·    बीपीएड – बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन,

·    ऑनर्स में बीकॉम,

·    अर्थशास्त्र में बीए,

·    इंटीग्रेटेड लो प्रोग्राम – बीकॉम एलएलबी

यदि आपको यदि आप ने 12वीं कॉमर्स से करी है और आपको व्यवसाय में रुचि है, तो आप-

·    सीए कर सकते हैं अर्थात चार्टर्ड अकाउंटेंसी आप कर सकते हैं।

·    इसके अलावा आप सीएस कर सकते हैं जिसे कंपनी सेक्रेटरी कहा जाता है।

·    इसके अलावा आप बैचलर ऑफ डिजाइन,

·    एक्सेसरीज डिजाइन,

·    फैशन डिजाइन,

·    सिरेमिक डिजाइन,

·    लेदर डिजाइन,

·    ग्राफिक डिजाइन,

·    इंडस्ट्रियल डिजाइन,

·    ज्वेलरी डिजाइन इत्यादि में अपना career बना सकते हैं।

12वीं के बादयदि आप चाहे तो ITI भी कर सकते हैं ITI का फुल फॉर्म इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट होता है।

यदि आपने 12वीं आर्ट्स कॉमर्स साइंस किसी भी क्षेत्र से करी है तो भी आप ITI का कोर्स 12वीं के बाद कर सकते हैं।

12वीं के बाद आपको इंजीनियरिंग और नॉन-इंजीनियरिंग के क्षेत्र में आपके पाठ्यक्रम मिलेंगे।

12वीं के बाद ITI

ITI के अंदर 12वीं के बाद-

·    कंप्यूटर ऑपरेटर एंड प्रोग्रामिंग असिस्टेंट

·    इंस्ट्रुमेंटल मकैनिक

·    स्टेनोग्राफी

·    रेडियोलॉजी टेक्निशियन

·    इंश्योरेंस एजेंट

·    सर्वेयर

·    कंप्यूटर एंड हार्डवेयर नेटवर्किंग

·    लाइब्रेरी एंड इंफॉर्मेशन

·    साइंस एंड हॉस्पिटैलिटी असिस्टेंट

·    गोल्डस्मिथ

·    आर्किटेक्चरल असिस्टेंट

·    इंटीरियर डेकोरेशन एंड डिजाइनिंग

·    डेस्कटॉप पब्लिशिंग ऑपरेटर

·    प्लास्टिक प्रोसेसिंग ऑपरेटर

·    मकैनिक लेंस और प्रिज्म ग्राइंडिंग

·    डेंटल लैबोरेट्री इक्विपमेंट टेक्निशियन

·    हेल्थ एंड सेनेटरी इंस्पेक्टर

·    साइकोथेरेपी टेक्नीशियन

·    क्राफ्ट मैन फूड प्रोडक्शन

·    ट्रैवल एंड टूरिज्म असिस्टेंट और इसी से संबंधित आपको बहुत सारे कार्य क्षेत्र मिलेंगे जिन्हें आप अपना career बना सकते हैं।

FAQ

प्रश्न:- 12वीं के बाद क्या करना चाहिए?

उत्तर:- 12वीं के बाद आपको यह सोचना चाहिए कि आपकी रूचि किस सब्जेक्ट में है और उसी से संबंधित पाठ्यक्रम को काम में ले कर के अपना career बनाना चाहिए।

प्रश्न:- क्या 12वीं के बाद साइंटिस्ट बन सकते हैं?

उत्तर:- जी बिल्कुल! यदि आपने 12वीं किसी भी स्ट्रीम से करी है तो भी साइंटिस्ट बन सकते हैं।

प्रश्न:- क्या 12वीं के बाद arts, commerce और science के अलावा और कोई भी कैरियर क्षेत्र नहीं है?

उत्तर:- जी ऐसा नहीं है। 12वीं के बाद आपको आर्ट्स, कॉमर्स और साइंस के अलावा भी और कई ऐसे सेक्टर मिलते हैं जैसे कि ITI, आर्मी, और सोशल साइंस इनमें आप अपना career बना सकते हैं।

खुद ITI में 50 से ऊपर पाठ्यक्रम आपको मिलते हैं जो आपके कार्यक्षेत्र को एक पूरी दिशा दे सकते हैं।

निष्कर्ष:-

तो आज के लेख में हमने आप को जानकारी दी कि 12vi ke baad kya Kare। इस लेख से सम्बंधित अगर आप कुछ और जानना चाहते है या अपना कोई सुझाव देना चाहते है तो हमे कमेंट करके जरूर बताये हमे आपके कमेंट का जवाब देने में ख़ुशी होगी।

हम आशा करते हैं कि आपको आपका जवाब मिल गया होगा। यदि आपको हमारी दी गई जानकारी पसंद आए तो कृपया इस लेख को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।

धन्यवाद12वीं के बाद कौन सी पढ़ाई करें?

इसे भी पढ़े :-

फॉरेंसिक साइंटिस्ट कैसे बने

Android App डेवलपर कैसे बने 

निशानेबाजी में करियर कैसे बनाये

2 thoughts on “12vi ke baad kya kare । करियर कैसे बनाये 2021 पूर्ण जानकारी”

  1. Pingback: PGDCA Course क्या होता है 2021 पूरी जानकारी What is PGDCA Course in Hindi

  2. Pingback: रेडियो का आविष्कार किसने किया। 2021 पूरी जानकारी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *