बॉक्सिंग में करियर कैसे बनाये। 2021 पूरी जानकारी

नमस्कार पाठकों, आज के लेख में हम उस खेल के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे जिसके लिए दीवाने और पागल लोग आपको विश्वभर में मिल जायेंगे, इंटरनेशनल लेवल पर यह खेल खेला जाता है। बड़ा ही खतरनाक और हड्डियों का कचूमर बना देने वाला खेल लोगों द्वारा पसंद भी किया जाता है और दुनिया भर से लोग इस खेल को देखना चाहते है तथा बहुसंख्या में लोग इस खेल का हिस्सा भी बनना चाहते है।

जी हाँ हम आज बात करेंगे की Boxer कैसे बने, बॉक्सिंग क्या होती है, यह कैसा खेल होता है, और यदि आप भी बॉक्सिंग के भक्त हो और बॉक्सर बनना चाहते हो तो वे क्या क्या तरीके है जिनकी मदद से आप बॉक्सर बन सकते है।

तो चलिए शुरू करते है-

इसे भी पढ़ें :- Accountant कैसे बने

इसे भी पढ़ें :- दिल्ली पुलिस ऑफिसर कैसे बने

बॉक्सिंग क्या होती है

  • बॉक्सिंग एक बहुत पुराना खेल है जिसे 16वीं से शायद 18वीं सदी तक तो ब्रिटेन में लोग पैसों के लिए खेलते थे, इसपर सट्टा लगाकर अच्छे पैसे कमाते व गवांते थे। उस समय तक यह कोई व्यवस्थित ढंग से नहीं खेला जाता था पर हाँ गली कुच्चों में लोग भीड़ लगाकर इसे खेलते थे। शायद उसके बाद इस खेल को अमेरिका और इंग्लैंड में सही ढंग से व्यवस्थित रूप से शुरू किया। आज के समय यह खेल विश्वभर में खेला जाता है और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ओलिंपिक में यह खेल 100 से ज्यादा देशों के सम्मिलित सहयोग से खेला जाता है।
  • यदि केवल हमारे ही देश भारतवर्ष की बात करी जाए तो भारत ने भी बॉक्सिंग में स्वर्णपदक जीतने वाले महान खिलाडियों जैसे विजेंदर सिंह, मैरी कॉम, एल. सरिता देवी, डिंको सिंह जैसे कई खिलाडी पूरे विश्व को दिए है जिन्होंने बॉक्सिंग में अपने नाम का लोहा पूरे विश्व से मनवाया है।
  • विजेंदर सिंह ने भारत के लिए बॉक्सिंग के खेल में पहला ओलंपिक मेडल जीता था और आज वह वह WBA एशिया पैसिफिक सुपर मिडलवेट चैंपियन हैं। मैरी कॉम ने 5 बार वर्ल्ड चैंपियन का खिताब भारत के नाम किया है और ओलंपिक में कांस्य पदक भी हासिल कर चुकी हैं।

बॉक्सिंग कैसे खेला जाता है?

  • बॉक्सिंग के खेल में दो लोग प्रतिद्वंदी बॉक्सिंग रिंग के अंदर सुरक्षा दस्ताने पहनकर एक-दूसरे पर बॉक्सिंग के नियम की हदों के अनुसार वार करते है।
  • इस पूरी प्रक्रिया के लिए एक से तीन मिनट के कुछ चक्र निर्धारित किए जाते हैं। बॉक्सिंग के खेल के दौरान बॉक्सिंग रिंग में प्रतिद्वंदियों के अलावा एक रेफरी भी होता है।
  • परिणामस्वरूप जो खेल को अच्छे से खेलर सामने वाले प्रतिद्वंदी पर भरी पड़ता है उसे वहा बैठे जज उतने अंक प्रदान करते है।

कुछ कारणों से यह खेल बीच में रोका भी जाता है जैसे:-

  • नियम तोड़ने के कारण दूसरे बॉक्सर के खेल से बाहर किये जाने।
  • न लड़ पाने की हालत में होने।
  • किसी भी एक प्रतिद्वंदी के तरफ से टॉवल फेंककर मुकाबला रोकने पर भी बॉक्सिंग में हार जीत का फैसला हो जाता है।
  • ओलंपिक में खेल में अंतिम समय तक दोनों बॉक्सर के पॉइंट यदि एक जैसे रहे तो उस परिस्थिति में जज तकनीक के आधार पर विजेता घोषित करते हैं।
  • प्रोफेशनल बॉक्सिंग के मुकाबले में यदि द्वंद्व के अंत तक दोनों लडाको के पॉइंट बराबर हों तो मुकाबला ड्रॉ घोषित जाता है।

बॉक्सिंग का खेल समान्यतया दो प्रकार का होता है: ameture तथा professional

  • Ameture खेल अक्सर ओलिंपिक में खेला जाता है ।
  • प्रोफेशनल बॉक्सिंग बहुत ही ज्यादा खतरनाक होती है और इसे खेलने के नियम भी खतरनाक होती है, कहा जाता है की जो एक बार प्रोफेशनल बॉक्सिंग कर लेते है वे ameture में लौट नहीं पाते।

कब शुरुआत कर सकते है?

  • बॉक्सिंग बहुत ही खतरनाक खेल है इसलिए इस की तैयारी भी शुरू करने की सही उम्र आठ से दस साल मानी जाती है।
  • वह इस लिए ताकि बच्चा खुद को ज्यादा बेहतर तरीके से बचा सके। बॉक्सिंग के खेल के लिए एकाग्रता से तैयारी करना बहुत जरूरी है।
  • बॉक्सिंग में बहुत दम और मेहनत लगती है इसलिए बहुत छोटी उम्र में शुरू करना सही नहीं होता है लेकिन अक्सर लोग 4-5 साल की उम्र से बच्चो को सिखाना शरू करते है।
  • बॉक्सिंग शुरू करने से पहले आपको अपने शरीर को उसके लयक बनाने के जरूरत होती है इसके लिए  रनिंग, स्वीमिंग आदि करना बेहतर है ताकि स्टैमिना बढ़े और बरकरार रह सके।

किस प्रकार का व्यक्ति बॉक्सर बन सकता है?

  • बॉक्सिंग के कोच की राय जाने तो एक बॉक्सर हमेशा अपनी आक्रामकता, फुर्ती, टेक्नीक, मजबूती  लड़ाई के प्रति अपने दृष्टिकोण से सफल होता है। अतः किसी बच्चे को बॉक्सर बनने की तैयारी करवाने से पहले यह जरूर देखना चाहिए कि उसमें ये सब गुण विद्यमान हैं भी या नहीं?
  • आक्रामक स्वभाव का अर्थ यह नहीं है कि बच्चा झगड़ालू स्वभाव का है तो वह अच्छा बॉक्सर बनेगा। बच्चे में फुर्ती, जोश और जीत की प्रबल इच्छाशक्ति होना जरूरी है।

कैसे पहचानें सही एकेडमी

  • एकेडमी चुनते समय कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है इससे आप एक अच्छी बॉक्सिंग एकेडमी चुन सकते है।
  • यदि एकेडमी में उस एकेडमी के लोगों या खिलाडियों की तस्वीरे लगी है तो वह अच्छी एकेडमी हो सकती है। जहा उन के खुद के लोगों की न होकर दूसरे विश्व विजेताओं की तस्वीरे लगी हो उन एकेडमी का अच्छा होना मुश्किल है।
  • एकेडमी के मालिक से जरूर मुलाकात करे, इससे आपको एकेडमी की वास्तविकता पता चल जाएगी।
  • यदि एकेडमी मी केवल हमला करना सिखाया जा रहा है तो वह एकेडमी अच्छी नहीं हो सकती।
  • अगर किसी एकेडमी में ट्रेनर अपने बच्चे को भी सिखा रहा है तो वह एक अच्छी एकेडमी है क्योंकि एक बाप अपने बच्चे के लिए बुरी जगह नहीं चुनता।
  • अगर आप उस एकेडमी की बॉक्सिंग रिंग को खाली देखे और किसी को प्रैक्टिस नहीं करते देखे तो समझे की वह अच्छी एकेडमी नै है।
  • अगर बॉक्सर की गलती पर ट्रेनर उन्हें रोक नहीं रहा तो उस एकेडमी का अच्छा होना भी मुश्किल है।

क्या हों सुविधाएं

  • एकेडमी में ज्यादा रिंग्स का होना और सब पर बच्चों का प्रैक्टिस करना,
  • फर्स्ट ऐड की सुविधा,
  • एकेडमी में जिम का होना,
  • शॉवर वगैरह का होना भी जरूरी है।

कोच कैसा हो?

  • किसी भी एकेडमी में अपने बच्चे को या खुद को डालने से पहले जरूर यह देखे की उस एकेडमी का कोच कैसा है
  • क्या वह कोच, कोच बनने लायक भी है या नहीं और क्या वह कोच अपने पद की गरिमा बनाये रखने में काबिल है और क्या उस कोच ने पहले खुद ने कभी बॉक्सिंग करी है?


बॉक्सिंग में कितनी फीस लगती है

  • यह अलग अलग बॉक्सिंग ऐज ग्रुप के लोगों और उनकी ट्रेनिंग पर निर्भर करता है, सामान्यतया इसकी फीस 2500 रुपये होती है लेकिन कुछ जगह छूट भी मिल जाती है।

कितनी देर तक ट्रेनिंग होनी चाहिए?

  • अगर बच्चा 8-12 साल तक का है तो हफ्ते में 6-8 घंटे।
  • अगर 16-18 साल का है तो 10-15 घंटे काफी है।
  • 2 घंटे की फिटनेस ट्रेनिंग भी होती है।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल मे हमने बॉक्सिंग से सम्बंधित बहुत से तथ्यों के बारे मे बताया हैं जैसे- Boxer कैसे बने, बॉक्सर बनने के लिए क्या करना पड़ता हैं आदि. अगर इस लेख से सम्बंधित आप कुछ और जानना चाहते है या अपना कोइ सुझाव देना चाहते  है तो हमे कमेंट करके जरूर बताये हमे आपके कमेंट का जवाब देना में ख़ुशी होंगी

यदि आपको हमारा लेख पसंद आया तो कृपया इसे अपने मित्रों तक जरूर शेयर करे।

धन्यवाद

इसे भी पढ़ें :- Web developer कैसे बने

इसे भी पढ़ें :- पक्षी वैज्ञानिक कैसे बने

इसे भी पढ़ें :- निशानेबाज कैसे बने

17 thoughts on “बॉक्सिंग में करियर कैसे बनाये। 2021 पूरी जानकारी”

  1. Pingback: Accountant में करियर कैसे बनाये, 2021 पूरी जानकारी, Accountant कैसे बने ?

  2. Pingback: राज्यसभा के मेंबर कैसे बने 2021 पूर्ण जानकारी -क्या हैं फायदे

  3. Pingback: Doctor कैसे बने 12 के बाद, Eligibility, Salary, future, किस प्रकार डॉक्टर बने

  4. Pingback: निशानेबाजी में करियर कैसे बनाये - 2021 पूर्ण जानकारी? निशानेबाज कैसे बने

  5. Pingback: Animator कैसे बने । सुरुवात कैसे करे । Course, Salary, Future?

  6. Pingback: कैरम का चैंपियन कैसे बने 2021 पूर्ण जानकारी - कैरम खेल के नियम

  7. Pingback: Hacker kaise bane 2021 पूर्ण जानकारी हैकर कौन होता हैं

  8. Pingback: डेटा साइंटिस्ट में करियर कैसे बनाये २०२१ पूर्ण जानकारी - डेटा साइंटिस्ट सैलरी

  9. Pingback: Foreigh Language kaise seekha in india? best career after 12th

  10. Pingback: Android App डेवलपर कैसे बने 2021 पूरी जानकारी App developer in hindi -

  11. Pingback: Digital Marketing में करियर कैसे बनाये 2021 पूरी जानकारी ?

  12. Pingback: PUBG kis desh ka game hai। PUBG GAME का मालिक कौन है

  13. Pingback: Olympic खेल क्या है। 2021 पूर्ण जानकारी Olympic GAME में करियर कैसे बनाये -

  14. Pingback: पक्षी वैज्ञानिक में करियर कैसे बनाये? कितनी इनकम कर सकते हैं?

  15. Pingback: ITI में करियर कैसे बनाये 2021 पूर्ण जानकारी। ITI Course kya hota hai

  16. Pingback: OBC Bill kya hai।2021 पूरी जानकारी हिंदी में । OBC Full Form

  17. Pingback: vishva me kitne desh hai । 2021 पूर्ण जानकारी । country in world

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *