Olympic खेल क्या है। 2021 पूर्ण जानकारी Olympic GAME में करियर कैसे बनाये

नमस्कार पाठकों

मित्रों जैसा कि हम सब जानते हैं कुछ दिनों पहले Olympic खेलों में भारत के नीरज चोपड़ा ने जेवेली थ्रो खेल में जेवेलिन फेकने में gold हासिल किया है। नीरज चोपड़ा पहले ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने Athletics में gold हासिल किया है।

इसी वजह से भारत में Olympic खेलों की चर्चा में गर्मा गर्मी हो गई है। बहुत से लोग Olympic के बारे में जानना चाहते हैं। उसके भूतकाल से वर्तमान और वर्तमान से भविष्यकाल के बारे में जानने में लोगों की रुचि बहुत बढ़ चुकी है।

Olympic खेल क्या है किस प्रकार के खेल Olympic में खेले जाते हैं, किस प्रकार के मेडल दिए जाते हैं, यह सब कुछ लोग आज जानना चाहते हैं। तो हमने सोचा क्यों ना आपको यह जानकारी दी जाए जो आप जानना चाहते हैं। आज के इस लेख में हम Olympic से संबंधित वह सारी जानकारी आपको देंगे जो आपके लिए जानना आवश्यक है।

तो चलिए शुरू करते हैं-

Olympic खेल क्या है

Olympic खेल क्या है?

मित्रों Olympic एक international Athletics contest है, जो विभिन्न देशों में खेला जाता है। और यह कॉन्टेस्ट हर 4 साल में एक बार आयोजित किया जाता है। Olympic का आयोजन अलग-अलग देशों में किया जाता है। Olympic में बहुत सारे खेलों का आयोजन होता है जैसे कि टेबल टेनिस, भाला फेंक, दौड़ इत्यादि। यदि हम ओलिंपिक के खेलों के बारे में जानना शुरू करेंगे तो आप को इनके बारे में जानते जानते पूरा दिन लग जायेगा।

इसे भी पढ़े :-

बॉक्सिंग में करियर कैसे बनाये

निशानेबाज कैसे बने

पक्षी वैज्ञानिक कैसे बने

प्राचीन Olympic का इतिहास

प्राचीन Olympic का इतिहास 2000 साल से भी बहुत पुराना है। कहा जाता है कि सबसे पहला Olympic ईसा मसीह के जन्म के 800 साल पहले ग्रीस नमक देश के olympia नामक जगह पर खेला गया था।

इसीलिए इसे Olympic कहा जाता है। इसे 12 वर्षों तक हर 4 साल बाद खेल का आयोजन करते थे। लेकिन ईसा मसीह के 400 वर्ष बाद पूर्व ही इस खेल की गति को थाम दिया गया।

  • ठीक इसके 15 वर्ष बाद में 1896 में ग्रीस में इसका फिर से उत्थान हुआ। Athletics tradition के साथ इसे फिर से खेलना जाने लगा।
  • कहा जाता है कि प्राचीन ग्रीस में जो खिलाड़ी होते थे वह स्पॉन्सरशिप, प्रोटेक्शन और फैशन का ख्याल नहीं रखते थे इसी लिए वे पूरे नंगे होते थे वे सारे खेल नग्न अवस्था में खेलते थे।
  • उस समय जितने खेल थे आज उनसे बहुत ज्यादा खेल Olympic में खेले जाते हैं।
  • पुराने समयकाल में Olympic खेलों में दौड़, मुक्केबाजी, कुश्ती, दौड़, सैनिक का प्रशिक्षण खेल का हिस्सा हुआ करते थे।
  • समय के साथ काफी चीजें olympic से हट गई और नई चीजें जुड़ती गयी।
  • जब भी Olympic खेलों का आयोजन होता था तब यह लगातार 5 से 6 महीने तक खेले जाते थे और उसके ठीक 4 वर्ष बाद में इसका फिर से आयोजन होता था।
  • इसके बाद सन 1900 के बाद में महिलाओं ने भी इस खेलों की श्रेणी में भाग लेना शुरू किया।
  • प्राचीन काल में Olympic का खेल ग्रीस की राजधानी एंथेस में आयोजित किया गया जिसमें यह ओलंपिया पर्वत पर खेले जाने के कारण इस खेल का नाम Olympic पड़ा।

आधुनिक Olympic का इतिहास

सबसे पहला आधुनिक काल का Olympic खेल ग्रीस की राजधानी एंथेस में 1896 में आयोजित किया गया था।

1896 से पहले से तकरीबन 1500 सालों तक कोई ओलिंपिक आयोजित नहीं किया गया था।जिसके कारण 1896 के बाद में भी Olympic के प्रति लोगों में जिज्ञासा या उत्साह का माहौल नहीं था।

सन 1900 में आते आते पेरिस को भी Olympic की मेजबानी का मौका मिल गया था।

पहली बार Olympic में महिला एथलीट को भी अपना टैलेंट दिखाने का मौका मिला था। लेकिन दुख की बात यह थी कि 1000 प्रतियोगियों में से केवल 20 महिलाएं थी और इसी प्रकार Olympic में परिवर्तन होते गए।

आज 2020 में 21 में हम Olympic का एक विशाल और महाकाय रूप देख रहे हैं।

जिसके कारण लोगों को Olympic के बारे में जानने की जिज्ञासा है और इसमें भाग लेने का उत्साह भी है।

Olympic खेलों का संचालन किन के द्वारा किया जाता है

  • Olympic एक बहुराष्ट्रीय खेल कार्यक्रम है जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होता है। इसमें दुनियाभर के लगभग 200 देश भागीदारी करते हैं।
  • यह खेल उत्सव की तरह ही बनाया जाता है। Olympic के खेलो को सर्दियों में भी आयोजित किया जाता है और गर्मियों में भी आयोजित किया जाता है।
  • Olympic खेलों का मात्र एक ही लक्ष्य है और वह है विश्व शांति का अंतिम लक्ष्य।
  • सन 2008 में Olympic खेलों में विश्व के 204 देशों ने भागीदारी करी थी।
  • Olympic खेलों का संचालन अंतरराष्ट्रीय Olympic समिति द्वारा किया जाता है जो 1925 में बनी थी। इसके संस्थापक Baron Pierre de Coubertin थे और 1937 में वे उनका निधन हुआ था।

Olympic में खेले जाने वाले खेल

Olympic में बहुत प्रकार के खेल खेले जाते हैं 1896 के बाद Olympic में बहुत सारे खेल अलग से जुड़े गए। Olympic में खेले जाने वाले गेम्स के नाम हमने लिस्ट नीचे लिस्ट में दिए हैं-

·    बास्केटबॉल

·    तीरंदाजी

·    जिमनास्टिक Athletics  

·    आर्टिस्टिक स्विमिंग

·    बैडमिंटन

·    बेसबॉल सॉफ्टबॉल

·    बास्केटबॉल

·    बीच वॉलीबॉल

·    फ्रीस्टाइल BMX

·    बीएमएक्स रेसिंग

·    बॉक्सिंग

·    कैनो फ्लैटवॉटर

·    डाइविंग

·    घुड़सवारी

·    फेंसिंग

·    फुटबॉल

·    गोल्फ

·    हैंडबॉल

·    हॉकी

·    जूडो

·    कराटे

·    मैराथन स्विमिंग

·    मॉडर्न पेंटाथालों

·    माउंटेन बाइक

·    रिदमिक जिम्नास्टिक

·    रोड साइकिल

·    रग्बी 

·    सेलींग

·    शूटिंग

·    स्केटबोर्ड

·    स्केलेटन

·    स्पोर्ट क्लाइंबिंग

·    सर्च स्विमिंग

·    टेबल टेनिस

·    ट्रेक साइकलिंग

·    ट्रामपॉलिन

·    ट्राईथालों

·    वॉली बॉल

·    वाटर पोलो

·    वेटलिफ्टिंग

·    रेसलिंग इत्यादि खेल है जो Olympic में खेले जाते हैं।

इनके अलावा भी कई बहुत से ऐसे खेल है जो Olympic में खेले जाते हैं। Olympic में खेले जाने वाले खेलों की संख्या किसी भी खेल के मुकाबले बहुत ज्यादा अधिक है। Olympic में 200 देश भाग लेते हैं।

और मेडल की की दावेदारी भी 200 देशों की होती है।

Olympic में मेडल

Olympic विश्व का सबसे बड़ा खेल है। खेलों की श्रेणी का खेल है। Olympic में लगभग 50 से ज्यादा खेल खेले जाते हैं। और उसी आधार पर मेडल भी आवंटित किए जाते हैं।

  • एक Olympic के खेल में तीन प्रकार के मेडल दिए जाते हैं। इनके नाम क्रमशः स्वर्ण पदक, रजत पदक और कांस्य पदक है।
  • यह स्वर्ण पदक उसे मिलता है जिसने सर्वोत्तम प्रदर्शन का प्रथम स्थान प्राप्त किया है।
  • रजत पदक उसे मिलता है जिसने अपना सर्वोत्तम प्रदर्शन का दूसरा स्थान प्राप्त किया है।
  • और कांस्य पदक उसे मिलता है जिसने सर्वोत्तम प्रदर्शन का तीसरा स्थान प्राप्त किया है।
  • इस प्रकार यह तीनों पदक आवंटित किए जाते हैं।

सर्दियों में Olympic के कौन से खेलों का आयोजन होता है?

सर्दियों में अल्पाइन स्किंग, बैथलोन, बोब्स्लेग, क्रॉस कंट्री, कर्लिंग, फिगर स्केटिंग, फ्रीस्टाइल, आइस किंग, आइस हॉकी,  नॉर्डिक कंबाइन, शार्ट ट्रैक स्पीड, स्केटिंग, स्केलेटन, स्काई जंपिंग, स्नोबोर्ड, स्पीड स्केटिंग, इत्यादि खेल का आयोजन सर्दियों में किया जाता है।

यह सारे खेल Olympic खेलों में आयोजित होते हैं।

Olympic के गर्मियों के खेल कौन से हैं?

गर्मियों में भी Olympic खेलों का आयोजन होता है जिसे ग्रीष्मकालीन Olympic खेल कहा जाता है।

ग्रीष्मकालीन Olympic खेलों में बास्केटबॉल, एक्रोबैटिक जिम्नास्टिक, आर्चरी, आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक, Athletics, बैडमिंटन, हैंडबॉल, वॉलीबॉल, फ्रीस्टाइल, रेसिंग, बॉक्सिंग, ब्रेकिंग, डाइविंग, एक़ुइस्त्रैन, फत्सल, गोल्फ, जूडो, कराटे, मैराथन स्विमिंग, मॉडर्न पेंटालोन, माउंट बाइकिंग, रिदमिक जिम्नास्टिक, रोड साइकिल, इन रोलर, स्पीड स्केटिंग, रोविंग, रग्बी, सेलिंग, शूटिंग, स्काई माउंटेन, स्पोर्ट क्लाइम्बिंग, स्विमिंग, टेबल टेनिस, टेनिस, ट्रामपॉलिन, वेटलिफ्टिंग, रेसलिंग, इत्यादि खेलों का आयोजन ग्रीष्मकालीन Olympic में किया जाता है।

Olympic के झंडे के बारे में कुछ रोचक तथ्य

  • Olympic का झंडा पांच गोल चक्र से मिलकर बना होता है।
  • Olympic के झंडे में पांच गोले होते हैं और यह सारे के सारे 5 रंगों की होते हैं।
  • इनमें एक नीला रंग का, एक पीला रंग का, एक काला रंग का, एक हरा रंग का, और एक लाल रंग का होता है।
  • Olympic खेलों का जब आयोजन किया जाता है तब जो मेजबान देश होता है उसे यह Olympic का ध्वज सौंपा जाता है।
  • जब Olympic खेलों का समापन होता है तब यह ध्वज वापस से उतारा जाता है और इसे अगले Olympic के आयोजक या मेजबान देश को सौंपा जाता है।
  • इस तरह है तथा प्रथा प्रतीकात्मक रूप से चलती रहती है।
  • आपको शायद पता नहीं होगा लेकिन Olympic खेलों को जब आयोजित किया जाता है तब Olympic का झंडा फहराया जाता है।
  • Olympic के झंडा सार्वभौमिकता को प्रदर्शित करता है।
  • इनमें जो 5 रंग के रिंग होती हैं उनका रंग प्रत्येक देश के ध्वज में कहीं ना कहीं मिल जाता है या मेल खाता है।
  • यदि आप इसे सरल भाषा में समझना चाहे तो Olympic का झंडा अपने आप में पूरे विश्व को एक झंडे में प्रदर्शित करता है।
  • Olympic के झंडे के पांच रंग विश्व के 5 महाद्वीपों का प्रतिनिधित्व करती है जैसे कि अफ्रीका, एशिया, अमेरिका,ऑस्ट्रेलिया, ओसियाना और यूरोप का प्रतिनिधित्व करती है।
  • Olympic के झंडे का अनावरण पहली बार 1920 में किया गया था और उस समय Olympic खेलों का आयोजन बेल्जियम में हुआ था।

Olympic के खेलों से जुड़े कुछ मुख्य और रोचक तथ्य

Olympic के खेल की जो official language है वह इंग्लिश और फ्रेंच है और इसके साथ ही जिस देश में यह आयोजित होता है उस देश की भाषा को complementary temporary time के लिए official language में शामिल किया जाता है.

आपने Olympic के खेलों में एक चीज को जरूर इस चीज पर जरूर ध्यान दिया होगा कि जो भी gold मेडल जीतता है, उसके देश का राष्ट्रगान बजाया जाता है। जो उसके और उसके साथियों व पूरे देश के लिए सम्मान की बात होती है गर्व की बात होती है।

लेकिन क्या आपको पता है कि 1932 में पहली बार Olympic खेलों का आयोजन जब लास एंजेलस में किया गया था तब gold मेडल जीतने वाली एथलीट के लिए पहली बार राष्ट्रगान बजाया गया था। उसके देश का झंडा फहराया गया था।

क्या आप जानते हैं कि 2014 में आयोजित सोची विंटर Olympic पर इतना खर्चा किया गया था कि उससे पहले जो 13 Olympic हुए थे उन सब पर भी इतना खर्चा नहीं किया गया था।

  • यदि भारत के संदर्भ में Olympic की बात करी जाए तो भारत ने आज तक 28 मैडल जीते हैं जिनमें 9 gold हैं 12 कांस्य पदक है 7 रजत पदक है।
  • भारत में आज तक कभी भी ओलिंपिक का आयोजन नहीं हुआ है। ऐसी आशंकाएं मानी जाती है कि 2050 तक भारत में Olympic खेल नहीं होंगे।
  • Olympic खेलों में जो मशाल होती है वह मशाल सबसे ज्यादा रूस देश को पार करके गुजरी है। कहा जाता है कि अब तक यह तकरीबन 70 बार रूस से होकर गुजर चुकी है।
  • क्या आप जानते हैं कि Olympic में भाग लेने वाले घोड़े का खुद का पासपोर्ट होता है और इन्हें इतना अच्छा ट्रीटमेंट दिया जाता है कि यह केवल बिजनेस क्लास में ही सफर करते हैं।
  • सन 1900 में आयोजित Olympic खेल में 1000 में से केवल 20 महिलाओं ने भाग लिया था लेकिन आज के समय Olympic में लगभग 44% महिलाएं जरूर भाग लेती है कई बार यह प्रतिशत ज्यादा भी हो सकता है।
  • सन 1900 में पहली बार भारत ने Olympic खेलों में भाग लिया था।
  • उस खेल में भारत ने पहली बार 2 सिल्वर मेडल जीते थे
  • 1924 में टेनिस को Olympic के खेलों की लिस्ट में से निकाल दिया गया था लेकिन 1988 में आते-आते इसे फिर से खेलों की सूची में जोड़ लिया गया।
  • क्या आपको पता है कि जो Olympic में काम आने वाले पदक होते हैं वे केवल मेजबान देश की आयोजन समिति के द्वारा ही बनाए जाते हैं। इसे बनाने का एक नियम यह है कि जो पदक हो वह कम से कम 3 मिलीमीटर मोटा और 60 मिलीमीटर चौड़ा होना चहिये।
  • Olympic के झंडे को Baron Pierre de Coubertin द्वारा 1914 में ही बना दिया गया था।
  • ओलंपिक के झंडे को पहली बार 1920 में ही लहराया गया।

निष्कर्ष

हम आशा करते हैं कि आपको Olympic से संबंधित सारी जानकारी प्राप्त हो चुकी होगी। जैसे Olympic में करियर कैसे बनाये Olympic game क्या होता है कब होते हैं Olympic game आदि यदि आप Olympic के खेलों में भाग लेना चाहते हैं तो आपको उसकी तैयारी कम उम्र से ही शुरु कर देनी चाहिए।

जैसा कि हम जानते हैं कि Olympic के खेल में भाग लेने वाला है प्रतियोगी केवल और केवल अपने देश का प्रतिनिधित्व करता है।

तो आपको भी Olympic खेलों में भाग लेने के लिए खेल के संदर्भ में अपने देश का प्रतिनिधित्व करना होगा।

आज के लेख में हमने आपको Olympic से संबंधित सारी जानकारी उपलब्ध करवाई है। हम आशा करते हैं कि आपको आपकी पसंदीदा जानकारी जरूर मिली होगी।

इस लेख से सम्बंधित अगर आप कुछ और जानना चाहते है या अपना कोई सुझाव देना चाहते है तो हमे कमेंट करके जरूर बताये हमे आपके सवाल का जवाब देना में ख़ुशी होगी, यदि आपको हमारा लेख पसंद आया तो कृपया करके इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।

धन्यवाद!

इसे भी पढ़े :-

Android App डेवलपर कैसे बने

स्पेस साइंस में करियर कैसे बनाये

ग्रामीण डॉक्टर कैसे बने

4 thoughts on “Olympic खेल क्या है। 2021 पूर्ण जानकारी Olympic GAME में करियर कैसे बनाये”

  1. Pingback: 12vi ke baad kya kare । करियर कैसे बनाये 2021 पूर्ण जानकारी

  2. Pingback: Taliban kya hai 2021 पूरी जानकारी।

  3. Pingback: youtuber kaise bane सम्पूर्ण जानकारी - Hindygyan

  4. Pingback: PGDCA Course क्या होता है 2021 पूरी जानकारी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *