Password ko hindi me kya khte hai । Password in Hindi

आज के समय बहुत से लोग अपने किसी भी प्रकार के Account को Secure करने के लिए Password का इस्तेमाल करते हैं। Password आज के समय Security का दूसरा नाम है। Password एक वह तकनीक है जिसकी सहायता से आप अपनी मर्जी के अक्षरों या फिर अंको या फिर दोनों का चुनाव करके और उसमें Special character भी मिला करके एक मजबूत सुरक्षा घेरा बना सकते हैं।

जिसकी सहायता से आप अपने Special डॉक्यूमेंट अपने Content या फिर अन्य किसी वीडियो ऑडियो फाइल को भी सुरक्षित कर सकते हैं। आज के समय Password के स्थान पर fingerprint Scanner भी आ गया है। जिसने Password को लगभग पूरी तरह से replace कर दिया है। लेकिन फिर भी आज के समय Password बहुत ही मजबूत और reliable source है, जो कि किसी भी प्रकार के document या फिर file या फिर Content को Secure करने में या फिर Account को Secure करने में मदद करता है।

क्या आप जानते हैं कि Password की शुरुआत कब हुई थी? सबसे पहला Password किसने लगाया था? कौन सा Password सबसे पहले इस्तेमाल किया गया था? Password ko hindi me kya kahate hai? Password कितने प्रकार के हो सकते हैं? हम आशा करते हैं कि आपको इन सभी बातों के बारे में जानकारी नहीं होगी।

इसीलिए आज के लेख में हम आपको इन सभी बातों  के बारे में जानकारी देने का प्रयास करेंगे।

तो चलिए शुरू करते हैं-

Password ko hindi me kya khte hai

Password ko hindi me kya khte hai?

मित्रों आपने आज तक बहुत बार ऐसा सुना होगा कि किसी ने कोई Password इस्तेमाल किया है, या फिर आपको कोई Password इस्तेमाल करना है। लेकिन आपको यह जरूर नहीं पता होगा कि Password को हिंदी में क्या कहते हैं।

मित्रों Password को हिंदी में कूट शब्द कहते हैं। या फिर कूट शब्दावली कहते हैं। जिसका मतलब मिश्रित शब्दावली होती है। जिसमें आप किसी भी प्रकार के शब्दों को बिना किसी मेलजोल के या फिर बिना किसी अन्य संभावनाओं के इस्तेमाल कर सकते हैं। जिनका मुख्य उद्देश्य किसी special Account या Content को सुरक्षित करना होता है।

Password का सबसे पहला इस्तेमाल कहां किया गया था?

सबसे पहले Password का इस्तेमाल computer system को lock करने के लिए किया गया था। और यह काम 1960 में  Fernando Corbato के द्वारा किया गया था।  यह कारनामा Fernando Corbato ने मैसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी अर्थात MIT में काम करते समय 1960 में किया था।

एक तरीके से उन्होंने  Password का invention किया था, जिसमें Compatible Time-Sharing System का इस्तेमाल किया जा रहा था। उस समय Computer को लॉक करने के लिए एक सुरक्षा प्रणाली की आवश्यकता थी। जिसके लिए Password का निर्माण किया गया। और मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट  ऑफ टेक्नोलॉजी के  Compatible Time-Sharing System को सुरक्षित करने के लिए सबसे पहले Password का इस्तेमाल किया गया था।

Password की खोज कब की गई

Password की खोज सबसे पहले 1960 में करी गई थी, और Password की खोज सबसे पहले Fernando Corbato ने की थी। Fernando Corbato, मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में काम करने वाले एक कर्मचारी थे। तथा उन्होंने Compatible Time-Sharing System को lock करने के लिए अर्थात सुरक्षित करने के लिए एक Line of code बनाया था, जिसका execution Password में बदला गया। अर्थात उन्होंने Compatible Time-Sharing System को सुरक्षित करने के लिए एक सुरक्षा प्रणाली का विचार किया जिससे अंत में Password की शक्ल दी गई।

Password का महत्व क्या है?

Password का सबसे बड़ा महत्व यह है कि यह आज के समय में किसी भी प्रकार के Account को या फिर किसी भी प्रकार के Content को सुरक्षित करने में अपनी सबसे बड़ी भूमिका निभाता है।

Password को इस्तेमाल करके हम एक ऐसी keyword प्रणाली generate करते हैं, जिसमे Password का पता मात्र generator को ही पता होती है। अर्थात जो व्यक्ति उस keyword प्रणाली को generate करता है, उसे ही उस keyword प्रणाली के बारे में पता होता है।

बाकी किसी को भी उसके बारे में पता नहीं होता और इसका इस्तेमाल करके हम हमारे Content या फिर Account को सुरक्षित कर सकते हैं। Password का सबसे ज्यादा महत्व सुरक्षा के क्षेत्र में है और Password ने सुरक्षा के क्षेत्र में बहुत ही ज्यादा तरक्की हासिल कर ली है।

Password का replacement क्या है?

आज के समय Password का replacement मुख्य रूप से दो तरीके से ढूंढा जा रहा है।

पहला Pattern Lock।

और दूसरा Fingerprint Sensor।

लेकिन इसके अलावा Ratina Scanner  और face Scanner भी password के सबसे बड़े replacement है। और Password को आज के समय में इन चार चीजों के द्वारा अर्थात Pattern Lock, Fingerprint sensor, Ratina Scanner, और Face Scanner के द्वारा पूरी तरह से replace किया जा चुका है। लेकिन इसके अलावा भी Password का इस्तेमाल आज के समय बहुत सारे लोग करते हैं। खास करके किसी मुख्य सुरक्षा प्रणाली में लोग अक्सर Password का इस्तेमाल ही करते हैं, क्योंकि  विभिन्न प्रकार के sensor और Scanner को hack करना Password की तुलना में बहुत  ज्यादा आसान है।  

Password के लाभ क्या है?

Password की सबसे बड़ी दो लाभ है इसका सबसे पहला लाभ सुरक्षा के क्षेत्र में क्रांति लाना है और दूसरा सबसे बड़ा लाभ सुरक्षा की चेतना है।

इसका मतलब क्या है कि  किसी भी प्रकार की Content या फिर Account को सुरक्षित करने में माहिर भी हैं और सुरक्षा का भाव पैदा करने में निपुण भी है।

Password का कोई भी लाभ सुरक्षा के अलावा होना मुश्किल है, लेकिन फिर भी Password का इस्तेमाल  किसी भी प्रकार के line of code को activate और deactivate करने में काम आता है। इसके अलावा Password का इस्तेमाल advance scanning प्रणाली  मैं भी किया जाता है।

Password के हानिकारक प्रभाव क्या है?

  • Password के हानिकारक प्रभाव यह होते हैं कि, कई बार जब हम Password का इस्तेमाल करते हैं तो हम Password लगा करके यह भूल जाते हैं, कि Password क्या था।  और इसका प्रभाव यह होता है कि हम खुद भी अपने Content या फिर Account को access करने में नाकामयाब हो सकते हैं। और इसके बाद में हमारे Content या फिर Account को access करने के लिए हमें विभिन्न प्रकार के रास्तों को अपनाना पड़ता है।
  • इसके अलावा  Password का एक सबसे हानिकारक प्रभाव यह है कि आज के समय आधुनिक Password को hack करना आसान है।
  • Password का एक और हानिकारक प्रभाव यह है कि यदि हमारे Password का पता किसी और को चल जाए तो Password के पास में ऐसी क्षमता ही नहीं होती है जो इस बात का पता लगा सके कि Password लगाने वाला सही व्यक्ति है या गलत व्यक्ति है।
  • आने वाले समय में artificial Intelligence की वजह से यह सारे काम हो सकते हैं लेकिन आज के समय में ऐसा मिलना बहुत मुश्किल है।

निष्कर्ष

तो आज के लेख में हमने जाना कि Password ko hindi me kya khte hai। और Password को लेकर के बहुत सि बाते जानी। हम आशा करते है कि आपको Password से सम्बंधित सारी जानकारी मिल चुकी होगी।

हम आशा करते हैं कि आपको इस लेख के द्वारा फायदा मिला होगा। अगर आप इस लेख से सम्बंधित कुछ और जानना चाहते है या हमे कोई सुझाव देना चाहते है तो हमे कमेंट करके जरूर बताये हमे आपके कमेंट का जवाब देने मे ख़ुशी होगी ।

अगर आपको हमारा लेख पसंद आया तो आप इसे अपने मित्रों तक जरूर शेयर करे।

धन्यवाद

इसे भी पढ़े

Software Engineer Kaise bane

Vakil kaise bane पूर्ण जानकारी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *